5. रोहित शर्मा: रोहित शर्मा ने साल 2007 में अपने वनडे करियर की शुरुआत की थी। उस दौर में वह ज्यादा सफल तो नहीं हो पाए थे लेकिन जिस तरह की उनकी क्रिकेटिंग शॉट्स की ओर एप्रोच थी उसके लिए उन्हें खूब सराहना मिली। रोहित अगले कुछ सालों तक लगातार टीम इंडिया से बाहर और भीतर होते रहे। आखिरकार, साल 2013 उनके लिए सौगात लेकर आया और उन्होंने भारतीय टीम की ओर से रनों काअंबार लगा दिया। रोहित के अगर पूरे करियर पर नजर दौड़ाएं तो वह रन चेज के दौरान खासे सफल रहे हैं। उन्होंने अपने वनडे करियर के कुल 90 मैचों की 87 पारियों में चेज करते हुए बल्लेबाजी की है। इस दौरान उन्होंने 38.81 की औसत से 2,756 रन बनाए हैं। साथ ही इस दौरान उन्होंने 3 शतक और 19 अर्धशतक जमाए हैं। रोहित ने पहली पारी में बल्लेबाजी के मुकाबले रन चेज में धीमे स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं और उनका स्ट्राइक रेट 80.86 का रहा है।

4. सचिन तेंदुलकर: भारतीय क्रिकेट के बेहतरीन बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का भी स्कोर चेज के वक्त अच्छा खासा औसत रहा है। सचिन ने साल 1989 से 2012 के बीच कुल 236 मैच स्कोर चेज के के दौरान खेले हैं। इस दौरान सचिन का औसत 42.33 का रहा है। सचिन ने इस वक्त 17 शतक और 52 अर्धशतक जमाए हैं। सचिन का चेज के वक्त बेस्ट स्कोर 175 रहा है जो उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध बनाया था। लेकिन गौर करने वाली बात है कि स्कोर चेज के वक्त सचिन का स्ट्राइक रेट ज्यादा रहा है और इस दौरान उन्होंने 88.44 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। अपने करियर के कुल 94 छक्के सचिन ने स्कोर चेज करते वक्त ही जड़े हैं। साथ ही इस दौरान वह सबसे ज्यादा 15 बार शून्य पर आउट भी हुए हैं।

3. शिखर धवन: शिखर धवन वर्तमान में उन चुनिंदा भारतीय बल्लेबाजों में शामिल हैं जिन्होंने चेज के वक्त ज्यादा औसत से रन बनाए हैं। शिखर का करियर औसत वैसे तो 42.13 का रहा है। साथ ही रन चेज के वक्त उनका करियर औसत 45.35 का रहा है। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट भी 91.70 का रहा है। शिखर ने चेज के वक्त कुल 5 शतक और 10 अर्धशतक जड़े हैं। साथ ही इस दौरान ही उन्होंने सर्वाधिक 24 छक्के जड़े हैं। धवन ने अपना वनडे करियर साल 2011 में शुरू किया था और वह अब तक रन चेज करते हुए 43 मैच खेल चुके हैं।

2. एमएस धोनी: भारतीय क्रिकेट टीम के सीमित ओवरों के कप्तान एमएस धोनी को एक बेहतरीन फिनिशर के नाम से जाना जाता है। कारण साफ है कि धोनी उस वक्त ज्यादा रन बनाते हैं जब टीम इंडिया स्कोर चेज कर रही हो। धोनी के वनडे करियर के आंकड़ों पर अगर ध्यान दें तो पता चलता है कि धोनी ने स्कोर चेज करते हुए अब तक कुल 146 मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 117 पारियों में बल्लेबाजी करते हुए 3,933 रन बनाए हैं। साथ ही उनका रन औसत इस दौरान 51.07 का रहा है। धोनी का वनडे में बेस्ट स्कोर 183* है जो उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ अपने करियर की शुरुआत में स्कोर चेज करते हुए ही बनाया था। धोनी ने इस दौरान 2 शतक और 27 अर्धशतक जमाए हैं। साथ ही इस दौरान उन्होंने 74 छक्के भी जड़े हैं।


1. विराट कोहली: स्कोर चेज करते हुए विराट कोहली भारतीय टीम के सबसे सफल बल्लेबाजों में से एक हैं। कोहली का वैसे तो करियर औसत 52.93 का है। लेकिन चेज करते वक्त उनका औसत 63.52 का है। कोहली ने चेज करते वक्त अभी तक कुल 99 मैच खेले हैं जिनमें उन्होंने 95 पारियों में बल्लेबाजी की है। साथ ही इस दौरान उन्होंने 4,701 रन बनाए हैं। स्कोर चेज करते हुए ही कोहली ने सर्वाधिक 16 शतक जड़े हैं। साथ ही स्कोर चेज करते वक्त ही उन्होंने सबसे ज्यादा छक्के जड़े हैं। इस तरह से कोहली स्कोर चेज करने वाले सबसे सफल भारतीय बल्लेबाज हैं।

loading...
Loading...
SHARE